दिमाग तेज करने के आसान तरीके

दिमाग तेज करने के आसान तरीके

आज के इस प्रतियोगिता भरे जमाने में हमारे दिमाग का तेज होना बहुत जरूरी है। आज कल हर जगह पर खेल बस दिमाग का है। अगर हम जरा सा कमजोर पड़ जाएँ तो हमारे प्रतिद्वंदी हमसे आगे निकल जाते हैं और हम पीछे रह जाते है। इसलिए हर दौर में हमारे दिमाग को तेज होना बहुत जरूरी है। सिर्फ प्रोफेशनल जिंदगी के लिए ही नहीं बल्कि हमारे निजी जिंदगी के लिए भी हमारे दिमाग को तेज होना बहुत जरूरी है। जब अधिक परिश्रम करने के बाद भी हमें परिणाम अच्छे नहीं मिलते तो हमें उस समय बहुत गुस्सा आता है। घर हो या ऑफिस या फिर पढ़ाई के रिफरेन्स से, अगर हमारी तुलना में कोई दूसरा इंसान किसी विशेष काम को अच्छे से कर लेता है तो हमारा दिमाग बहुत खराब या घूम जाता है। उस समय हमें कुछ समझ नहीं आता कि आखिरकार हम उसी कार्यक्षमता से काम को पूरा क्यों नहीं कर पाए। लेकिन इसमें आपकी भी कोई गलती नहीं है।

दिमाग तेज करने के आसान तरीके

लेकिन कुछ लोग चाहते हुए भी  अपना दिमाग तेजी से नहीं चला पाते जिसके कारण बहुत से क्षेत्र में वो लोग बाकियो से पीछे रह जाते है। इसलिए दोस्तों आप लोग अब अपने दिमाग को तेज करने को लेकर थोड़ा सीरियस हो जाये और अगर दिमाग थोड़ा कमजोर भी है तो कोशिस करिये की आप उसे तेज कर सके। कभी-कभी हमें यह विचार आता है कि दिमाग भी कितने काम की चीज़ है, इतना लघु होकर भी हमारे सम्पूर्ण बदन पर सख्ती रखता है। हम लोग अपनी बुद्धि की ताकत का अंदाजा भी नहीं लगा सकते की वह कितनी तेज हो सकती है, यह हर मिनट, हर सेकेण्ड हमारे लिए काम करता है। जब हमें दिमाग की आवश्यकता होती है तो यह हाजिर रहता है, हर इंसान बेशक थक जाएं लेकिन हमारा दिमाग चलता ही रहता है। जब हम दिमागी रूप से थक या बोर हो जाते हैं तो अपने आप से यही कहते हैं कि आज हमारा दिमाग कार्य नहीं कर रहा, लेकिन हमारा कहने का तात्पर्य गलत हैं। उस वक़्त भी हमारा दिमाग या हमारी बुद्धि चलती रहती है, वह हजारो प्रकार के विचार खोज रहा है। उस समय भी दिमाग में वह सभी भाव चल रहे हैं जिन्हे आप मुकम्मल करना चाहते हैं लेकिन थकान के चलते हम दोष अपने दिमाग/ बुद्धि को देते हैं।


स्कूल कॉलेजों में अक्सर कोई ना कोई प्रतियोगिता होती रहती है। आप अगर वाकई में अपने दिमाग को और ज्यादा तेज करना चाहते है तो ऐसी प्रतियोगिता में हिस्सा लेते रहिये ऐसा करने से नयी नयी चुनौतियों से आपका सामना होगा और नयी नयी चुनौतियों से टकराकर आपका दिमाग खुद खुद तेज हो जायेगा। आप लोग चाहे किसी भी उम्र के हो आज का प्रतियोगिता सफर ऐसा है कि आपको मानसिक रुप से सही-सलामत होने की बहुत ज्यादा आवश्यकता है। इसलिए हम आज आप को दिमाग वेगवान करने के कुछ घरेलू इलाज और नुस्खे यहां बता रहे हैं। चाहे पढ़ाई का इलाका हो या व्यापर का या फिर आप नौकरी करते हो या और दूसरा किसी भी प्रकार का कोई भी कार्य करते हैं।

आंखों देखी बातें ->> वैज्ञानिको का कहना है कि सुनने की बजाए जो किसी भी प्रकार की कोई भी चीज देखी गई हों वह कभी भी नहीं भूली जाती, लेकिन कई ज्यादातर ऐसा होता है कि आंखों देखी बातें भी हम थोड़े दिनों के बाद भूल जाते हैं। अच्छी प्रकार से नहीं तो कम से कम उन्हें उसी अवस्था में याद रखना हमारे लिए असंभव-सा हो जाता है।


फिल्में देखें और गाने सुने ->> फिल्म देखने से और गाने सुनने से भी हमारा दिमाग काफी तेज हो जाता है। क्योकि इन सब से कुछ नयी बातें नया ज्ञान हमारे नज़रों के सामने आते है। हर बार जब हम एक नया गाना सुन्नते है या एक नयी फिल्म देखते है तो हर बार कोई नयी बात, कोई नया ज्ञान हमारे मस्तिष्क में प्रवेश करता है और धीरे - धीरे हमारे दिमाग में तेज और ज्ञान का भंडार बन जाता है।

किताबे पढ़े ->> अब ये तो सब को पता ही है की किताबो में ज्ञान का भंडार होता है। और किताबो में कुछ भी ऐसा नहीं लिखा रहता जिसे पढ़कर हम पर कोई बुरा प्रभाव पड़े। इसलिए अगर आप लोग असली में अपने दिमाग को तेज करना चाहते है तो नयी नयी किताबो से रिस्ता जोड़िये। नयी पुराणी किताबे पढ़ने से आपका दिमाग पहले से काफी तेज हो जायेगा इसलिए हमारी आप लोगो से यही सलाह है की आप लोग नयी और पुराणी अच्छी अच्छी किताबो की व्यवस्था कीजिये और उन किताबो को पढ़िए।

यह भी पढ़ें ->> Communication Skill को कैसे बढ़ाए

नए नए दोस्त बनाये ->> जब हम लोग नए नए लोगों से मिलते है तो हमारा परिचय नयी नयी बातों से होता है। ऐसा करने से हमारा दिमाग ताजा और सक्रिय होता है और धीरे धीरे हमारा दिमाग पहले से काफी तेज हो जाता है। इसलिए हमें जितना हो सके उतने नए नए और अच्छे दोस्त बनाने चाहिए और उनके साथ समय व्यतीत चहिये।


नयी नयी चीज का प्रयत्न करना चाहिए ->> कभी कभी कुछ चीजों में ऐसे ही हमारी रूचि जाती है और हमारे मन में उस काम को करने की चाह जाग जाती है लेकिन कभी कभी हम चाहते हुए भी उस काम को नहीं कर पाते पता ही नहीं होता है की उस काम को कैसे करना है। आपके मन में जब भी कुछ नया करने की इच्छा जागृत हो तो उस इच्छा को दबाइये मत बल्कि उसे सीखने की कोशिस करिये की उस काम को कैसे करना है। इसलिए हमारी आप लोगो से यही विनती है की आप लोग नयी नयी चीजों को इस्तेमाल करते रहिये ताकि आपका दिमाग  तेज हो जाये।



0 comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.