रेलवे में TC या TTE कैसे बने - योग्यता, सैलरी, सिलेबस और अन्य पूरी जानकारी विस्तार से

रेलवे में TC या TTE कैसे बने

भारतीय रेलवे विश्व में सबसे अधिकरोजगार देने वाले क्षेत्र में गिना जाना जाता है| रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा आयोजित कराई जाने वाली, रेलवे परीक्षा युवा वर्ग के लिए लोकप्रिय परीक्षाओं में से एक है रेलवे विभाग में नौकरी करना सबसे सुरक्षित और पसंदीदा माना जाता है|

रेलवे में प्रत्येक वर्ष अनेक पदों पर वैकेंसी निकलती है, जिसमें इच्छुक अभ्यर्थी नौकरी हेतु आवेदन करते है| रेलवे में सफर करने के लिए टिकट की मांग की जाती है, जिसे टिकट कलेक्टर अर्थात टीसी द्वारा चेक किया जाता है| रेलवे में टिकट कलेक्टर की जॉब कैसे प्राप्त कर सकते है, इसके बारे में हम आपको इस पेज पर पूरी जानकारी देंगे|


टीसी या टिकट कलेक्टर
भारतीय रेलवे में टिकट कलेक्टर की भर्ती प्रक्रिया लगभग 19 रेले भर्ती बोर्ड द्वारा देश के विभिन्न भागो में की जाती है| भारतीय रेलवे में भर्ती प्रक्रिया को प्रारंभ करने से सम्बंधित जानकारी रोजगार समाचार पत्र और वेबसाइट के माध्यम से दी जाती है| जिसे आप आरआरबी की वेबसाइट पर अपना पंजीकरण कर सकते है|

भारतीय रेलवे में टीसी बनने हेतु आवश्यक योग्यताये
1.टिकट कलेक्टर बनने के लिए अभ्यर्थी को भारत का नागरिक होना अनिवार्य है
2.अभ्यर्थी को किसी भी विषय में कम से कम बारहवीं (12th) पास होना अनिवार्य है
3.अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 30 वर्ष तक होनी चाहिए
4.भारत सरकार के नियमानुसार जनजाति के अभ्यर्थियों के लिए तीन वर्ष, और अनुसूचित जाति के लिए पांच वर्ष की छूट प्रदान की जाती है, तथा SC/ST वर्ग के अभ्यर्थी  35 वर्ष की उम्र तक आवेदन कर सकते हैं|

टीसी बनने हेतु लिखित परीक्षा
वर्तमान में यह परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से आयोजित की जाती है| जिसमें भारतीय रेलवे के 17 रेलवे भर्ती बोर्ड में एक साथ समय-समय पर टीसी लिए आवेदन आमंत्रित किये जाते है| आवेदन की प्रक्रिया के पश्चात विभाग द्वारा रिव्यू किया जाता है और आवेदन सही पाए जाने पर आरआरबी द्वारा अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा हेतु एडमिट कार्ड जारी कर दिया जाता है|
टिकट कलेक्टर की भर्ती प्रक्रिया में लिखित परीक्षा में कुल 120 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं| इस परीक्षा में प्रश्न सामान्य ज्ञान, सामान्य विज्ञान, तार्किक, गणित आदि से सम्बंधित पूछे जाते है|

चिकित्सीय परिक्षण
रेलवे भर्ती प्रक्रिया में मेडिकल टेस्ट भी सम्मिलित है| चेकअप के पश्चात अभ्यर्थी  को फाइनली मेडिकल फिट होने के पश्चात अभ्यर्थी को रेलवे जोनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (ZRTI) भेज दिया जाता है, जहां उन्हें रेलवे से संबंधित नियम के बारें में बताया जाता है|

टिकट कलेक्टर का वेतन
1.टिकट कलेक्टर को वेतन के रूप में 9400 - 35000 रु० तक दिया जाता है|
2.सैलरी के साथ -साथ डीए और निवास हेतु एक घर की सुविधा दी जाती है|
3.कर्मचारी और उसके परिवार के सदस्यों को रेल से किसी भी गंतव्य की यात्रा निशुल्क है|
4.कर्मचारी और उसके परिवार के सदस्यों को चिकित्सा से सम्बंधित सुविधाएँ निशुल्क प्राप्त होती है|
दोस्तो, यहाँ हमनें आपको टिकट कलेक्टर बननें के बारें में बताया| यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न रहा है तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते हो|



0 comments:

Post a comment

Powered by Blogger.