अपना सपना साकार करने के आसान तरीके

अपना सपना साकार करने के आसान तरीके

अमीर बनने के हर क्षेत्र में सफल होने के या फिर कुछ ऐसा कर जाने का सपना जिसे दुनिया हमेशा हमें याद करे, हम सब ऐसा कोई ना कोई सपना ज़रूर देखते है। हम उन सपनो की बात नहीं कर रहे है जो आप सोते हुए देखते है बल्कि उन सपनो की बात कर रहे है जो आपको सोने नहीं देते। तो आखिर ऐसा क्या है जो आपको आपके सपनो को साकार करने से रोक देते है। ऐसी क्या वजह है जो आपको आगे नहीं जाने  देती है? और इनसे तुम किस प्रकार से छुटकारा पा सकते है इन्ही बातों पर इस लेख में हम चर्चा करेंगे। वास्तव में यह  एक सबसे जरूरी प्रश्न है क्यूंकि यह जानना बहुत जरूरी है की आखिर आपका सपना क्या है? आप करना क्या चाहते हो,आप क्या बनाना चाहते हो? सपने देखना कोई बुरी बात तो नहीं है लेकिन अगर आप उस सपने को पूरा करने के लिए मेहनत करे तो. बहुत से दोस्त सपने तो बड़े बड़े देखते है लेकिन उसका 1 गुना भी मेहनत नहीं करते है। तो जरूरी है की हम एक छोटे से कदम से शुरुआत करे और फिर उसको पूरा होने पर आगे की रणनीति तय करे। धीरे -धीरे लेकिन हमें एक दिन कामयाबी जरूर मिल जाती है।

अपना सपना साकार करने के आसान तरीके

अक्सर हम अपनी कमजोरियों को छुपाने के लिए या दूसरों को दिखने के लिए या फिर अपने मन को बहलाने के लिए कुछ कुछ बहाने बनाते है। यही बहाने हमें अपनी मंजिल तक पहुंचने से रोकती रहती है। आईये ऐसे ही बहानो के बारे में जानते है और ये भी जानते है की इनसे कैसे निपटा जाये और अपनी जिंदगी में कैसे बदलाव लाया जाये। अब जब आपने अपना सपना सोच ही लिया है तो शुरू हो जाओ आज ही अभी से, क्यूंकि कबीर जी ने कहा हैकल करे सो आज कर आज करे सो अब, पल में परलय हो जाएगी बहुरि करोगे कब" तो दोस्तों अभी आप बहुत पीछे हो आपको अपने सपने के लिए बहुत आगे तक जाना है। अगर आप आज ही से स्टार्ट नहीं कर पाए तो आगे जाते जाते आपको काफी टाइम और मेहनत की जरूरत पड़ेगी चाहे आपका काम छोटा या बड़ा क्यों हो। ऊंचाई पर पहुँचने के लिए पहले सीढ़ी चढ़ना भी बहुत ज़रूरी होता है, तभी आप अपनी मजिल को पा सकते है।

हर कोई अपनी जिंदगी में कोई ना कोई सपना देखता है। हर किसी की आंखो मे बहुत सारे सपने उत्पन होते है। और वो किसी भी हाल में अपने उस सपने को सच करना चाहते है। लेकिन सपने देखना जितना आसान और सरल है सपने को सच करना ख़ास उतना ही सरल और आसान होता है। मगर ऐसा बिलकुल भी नहीं है। हम जितना आसानी से किसी सपने को देख लेते है उस सपने को पूरा करने में हमें उससे कई गुना ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। बहुत बार आप एकदम से कुछ अनजान काम को देखकर सोचकर ये सोचने लगते है की ये काम तो मुझसे होगा ही नहीं? अगर आप यह बात अपने बड़े सपने को साकार करने में उपयोग करते है तो छोड़ दो सपना देखना, क्यूंकि आपका लक्ष्य पाना बहुत कठिन होता जायेगा। खुद किस्मती से इसका विपरीत भी होता है। कोई भी काम इतना भी कठिन भी क्यों हो अगर आप अपने मन को ये समझते रहे की ये आसान है और आप इसे कर सकते है तो धीरे धीरे वही काम आसान लगने लग जायेगा और आप उस लक्ष्य को आसानी से पा सकते हो।


चुनोतियों को ख़ुशी ख़ुशी स्वीकार करें ->> आपको अगर अपने सपनों को साकार करना है तो आपको चुनोतियों से बिलकुल भी नहीं डरना है। क्योकि अगर आप चुनोतियों से डर जायेंगे तब आप कुवह भी नहीं कर पाएंगे और तब आप अपने सपनो को साकार करना तो दूर की बात है आप अपने सपने सच करने के रस्ते पर  2 4 कदम भी नहीं चल पाएंगे। इसलिए आप लोग कभी भी चुनोतियों से जरा भी डरे और हर एक चुनौती को बिंदास और निडर होकर स्वीकार करे। आप अपनी जिंदगी में अपने वाली हर एक चुनौती को एक खेल की तरह ले और उस चुनौती को एक खेल की तरह ही पूरा करे।


सकारात्मक सोचे ->> जिंदगी में हर टाइम सकारात्मक सोचे. यदि आप अच्छा सोचेंगे तो अच्छा ही होगा, इसके पीछे कारण है की हम जैसे सोचते है वैसे ही बनते है और उसका असर हमारे काम पर पढता है। आदमी की सोच बहुत ज़रूरी होती है। अगर आप सकारात्मक सोचते है तो आपके दिमाग में सकारात्मक ही विचार आते है। और अगर आप नकारात्मक सोच रखते है तो आपको विचार भी नकारात्मक और दोस्त भी नकारात्मक ही मिलते है।

यह बहुत कठिन अथवा असंभव सा प्रतीत होता है ->> क्या आप अक्सर इस वाक्य का प्रयोग अपने सपने को बयान करते समय करते है? अगर हाँ तो ये जान लीजिये की जितनी बार आप इस बात को दोहराएंगे आपके लिए आपके सपने को पाना वास्तव में उतना ही असंभव अथवा कठिन होता जायेगा। खुश किस्मती से इसका उल्टा भी होता है। कोई काम या लक्ष्य कितना भी कठिन क्यों ना हो अगर आप अपने मन को ये समझते रहे की ये आसान है और आप इसे कर सकते है तो धीरे धीरे वही कठिन कार्य या लक्ष्य आपके लिए आसान होता जायेगा। और आप अपने लक्ष्य को आसानी से पाने के लिए तैयार हो जायेगे।


गलती से जानें ->> जब हम अपने सपने को साकार करने की और कदम बढ़ाते है तो हो सकता है की हमसे कोई गलती हो जाये और ये जायज भी है। क्यूंकि ऐसा कोई काम नहीं है जिसे करने में गलती हो। अगर आपसे कोई गलती हो जाये और आप अपने सपने की और एक कदम आगे बढ़ने की वजय एक कदम या कुछ कदम पीछे हो जाये तो इसका ये मतलब कतई नहीं है की आप उस काम को नहीं कर सकते है। आपको इस गलती से सबक लेना चाहिए की निराश होकर अपने सपने की तरफ से कदम पीछे हटाना चाहिए।

मेरे पास समय नहीं या पैसा नहीं या फिर प्रतिभा नहीं ->> अक्सर हम उसी चीज के बारे में गौर करते रहते है जो हमारे पास नहीं होता जैसे पैसा, समय या फिर प्रतिभा उदाहरण के तोर पर अगर आपको लगता है की आपके पास अपने काम को करने के लिए योग्यता नहीं है या फिर कोई कुशलता नहीं है। तो ऐसे तरीको को खोजे या फिर कही से ट्रेनिंग ले जिससे आपकी मुश्किल आसान हो जाये।

और उन चीजों पर ध्यान देना बंद करे जो आपके पास नहीं है बल्कि उन चीजों पर ध्यान दे जो आपके पास है। आपके पास हमेशा नयी शुरुआत करने के मौके होंगे। इसलिए नयी शुरुआत करने के लिए सबसे पहले ये जानने की अपने काम को बेहतर तरीके से करने के लिए आपको किन चीजों की ज़रुरत है। और फिर उससे हासिल करने में जुड़ जाये।


बुरी आदतों से दूर रहे ->> अपने लाइफ की छोटीबड़ी कठिनाइयों को दोष देना बहुत आसान है लेकिन उन पर विजय पाना उतना ही मुश्किल है। अगर आपको कोई बुरी आदत है तो उस टाइम रहते कण्ट्रोल कर ले और फिर धीरे धीरे उसे ख़त्म कर दे। अगर आप ऐसा नहीं कर पाए तो आप उस बुरी आदत के आदि हो जायेंगे और मेहनत से कमाया गया पैसा पानी की तरह बर्बाद करेंगे साथ ही आपके कामयाबी के रास्ते भी मुश्किल होते जायेंगे।


हमेशा मजबूत रहें ->> अपने हक़ पर कायम रहे अपने हिस्से की कामयाबी और उसका श्रेय दूसरे व्यक्ति को लेने दे। यह आपका है और आपको पूरी कोशिश करनी चाहिए की आपसे आपका हक़ कोई और छीन पाए। आपको उसे हासिल करने के लिए पूरी ताकत लगा लेनी चाहिए। हो सकता है यह इतना आसान नहीं हो लेकिन इस दुनिआ में आसानी से कुछ नहीं मिलता। उदाहरण के लिए आप अपने स्वभाव में किसी पॉजिटिव चेंज करना चाहते है तो आप अकेले के लिए यह कर पाना मुश्किल होगा। इस पर ठीके रहने के लिए कई प्रकार के समझौते करने पड़ सकते है।



0 comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.