लेखक बनने के आसान तरीके

लेखक बनने के आसान तरीके

आज का हमारा टॉपिक है "लेखक बनने के आसान तरीके" हर किसी की जिंदगी में कोई ना कोई लक्ष्य ज़रूर होता है जो की जरूरी भी हैं। किसी लक्ष्य के बिना किसी जुनून के बिना जिंदगी अधूरी अधूरी सी लगती है। जिसमे जीकर कोई मज़ा नहीं आता। कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई इंजीनियर, कोई व्यवसायी बनना छठा है तो कोई लॉयर। लेकिन कुछ लोगो का लक्ष्य सबसे हटकर होता है वो लोग कुछ खास और अलग करना चाहते है। ऐसी ही एक आदत है लिखना। कुछ लोगो को लिखने का बहुत शौंक होता है वो अपने मन की हर बात कागज पर लिख देते है। ऐसा करते करते एक दिन उनके मन में प्रोफेशनल लेखक बनने की चाह उत्पन हो जाती है। तो जो लोग असली में लेखक बनना चाहते है उनके लिए हम कुछ ऐसी युक्तियाँ  लेकर आये है जिसे पढ़ने के बाद उनका दिमाग काफी विकसित हो जायेगा एक अच्छा लेखक बनने के लिए क्या क्या गुण होने चहिये। ये आज के हमारे इस लिख को पढ़ने के बाद आप लोगो को समँझ में जायेगा।

लेखक बनने के आसान तरीके

लेखक बनाना आसान नहीं है और लेखक बनने के चाहत भी कम ही लोगों को होती है क्योंकि  इसमें सफलता बहुत काम है। लेखन एक अत्यंत विविध व्यावसायिक क्षेत्र है। जायदातर प्रोफेशनल लेखक स्व नियोजित होते है क्योंकि इसमें वैसे ही हर महीने वेतन करनेवाले जॉब्स काम है। अगर आपने लेखन की दुनिया में अच्छा नाम कमाया है तो समाचार पत्र में लेखनेको मिलसकता है। आज के दुनिया में सिर्फ बुक्स या समाचार पत्र में ही नहीं बल्कि इंटरनेट पे ब्लोग्स, सामग्री प्रकाशित कर सकते है। तो इस क्षेत्र में प्रयत्न करना थोड़ा आसान हो गया है। अब कुछ लोगों को शब्दों का इस्तमाल बहुत आसानी से आता है और उन लोगों को लिखने में मदद मिलती है और जो शब्दों को अच्छे से नहीं लिख सकते उनको बहुत म्हणत करनी पड़ती है। इस आर्टिकल में कुछ टिप्स है जो आपके लेखक बनाने में मदद कर सकती है।


दूसरों  के किताब पड़ने का मतलब किसीके विचारों या अंदाज की चोरी नहीं करनी है। बल्कि अपने व्याकरण और एक लेखक की संरचना को संजना है। लिखने के लिए बहुत ही सबर चाहिए और जितना पढ़ेंगे उतना आप का एकाग्रता और सबर बढ़ेगा। अच्छी किताबे पड़े जो पुराने प्रसिद्ध लेखक की  हो उनके काम पड़े और आजकल के सर्वश्रेष्ठ विक्रेता किताबो के लेख को पड़े और अपने अंदाजो को ढूंढ ले। अपने मनपसंद विषय की किताबे पड़े या आप जिन विषयों पर लिखना चाहते है उन विषयों पर पढ़े और परखे की किसके अंदाज का पालन करें ,किसके अंदाज से दूर रहे। उपन्यास या गैर कल्पना? लम्बे या छोटे रूप है? किताबें, ब्लोग्स, लेख, समाचार पत्र या सामाजिक मीडिया? इंटरनेट पर लिखा मीडिया के प्रसार के वजह से एक विशाल विविधता के अवसर मौजूद हैं। आप को जो सहि लगे उसे चुने।

भाषा पर ध्यान दे ->> आप अगर कुछ लिख रहे है और आप चाहते है की ज्यादा से ज्यादा लोग आपके इस लेख को पढ़े तो आप अपनी भाषा पर थोड़ा ध्यान दीजिये। अगर आप अपने इस लेख में सफल और सिंपल भाषा का उपयोग करेंगे तो लोगो को आपका लेख जरूर समँझ में जायेगा और आपका लेख हर कोई पढ़ेगा। धीरे धीरे आपके लेख के साथ ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़ जाएँगे और एक बार आपके लेख के साथ ज्यादा लोग जुड़ने लगे फिर आपका लेख और आप दोनों को प्रसिद्ध होने से कोई नहीं रोक सकता।


प्रोफेशनल कोर्स करें ->> आप जिस भाषा में लिखना चाहते है उस भाषा में डिग्री ले सकते है।  एक प्रोफेशनल डिग्री आपके करियर के लिए अच्छा नीव बन सकती है। वैसे कॉलेजेस और इंस्टीटूट्स से कई सारे प्रकाशकों और लेखक के दुनिया से सम्बंधित लोग जुड़े होते है और आपकी प्रतिभा को जल्दी पहचान मिल सकती है।

साहित्य सम्मेलन में भाग ले ->> साहित्य सम्मलेन कई बार लेखकों के संगठनों द्वारा आयोजित होते या कोई संस्था से आयोजित होते है जिनमे व्याख्यान। नेटवर्किंग सत्र और लेखन और आलोचना के लिए भी अलग समय होता है।


उत्तेजित करने वाला लेख लिखे ->> हम कोई भी किताब जब पढ़ते है तो ये देखकर पढ़ते है की उस किताब में कुछ उत्तेजित करने वाला  लेख है या नहीं। अगर आप भी अपने लेख के साथ ज्यादा से ज्यादा लोगो को जोड़ना चाहते है तो कोशिश करे की जितना हो सके आप कुछ उत्तेजित करने वाला लेख लिखे। आप कहानी कविता जो भी लिखे बस ध्यान रखे की बीच बीच में कुछ उत्तेजित लिखा हो ताकि लोगो को आपकी किताब पढ़ने में रूचि बढे और वो लोग आपकी किताब को पढ़े।

दिल से लिखे ->> जब कोई बात हम दिल से बोलते है तो सीधे जाकर वो सुनने वाले के दिल को छूती  है उसी तरह जब हम दिल से लिखते है तो वो भी सीधे जाकर पढ़ने वाले के दिल को छूती है। अगर आप चाहते है की आप जो भी लिखे वो सब के दिल को जाकर छुए तो आप जो भी लिखे वो पुरे दिल से और ईमानदारी से लिखे।

यह भी पढ़ें ->> सफलता कैसे पाएं

नयी नयी बातों को सामने लाये ->> हम सब लोग नयी नयी बातें जानना चाहते है जिस किताब या ब्लॉग को पढ़ने से हमें नयी नयी बातो की जानकारी मिलती है उस किताब के प्रति हमारी चाह दिन प्रतिदिन बढ़ती जाती है। आप भी अगर अपने लेख के प्रति लोगो की चाहत को बढ़ाना चाहते है तो कुछ ऐसा लिखे जो बिलकुल नया हो और जानकार हो। धीरे धीरे आपके लेख के प्रति लोगो की चाहत बढ़ने लगेगी और आप भी धीरे धीरे प्रसिद्ध होने लगेंगे।

अपने काम को समय दे ->> आप अगर लिखने में शौकीन है तो आप अपने लेख को जितना मुमकिन हो उतना समय दे अगर आप थोड़े समय में ज्यादा लिखने की कोशिश करेंगे तो कुछ भी नहीं लिख पायंगे और अगर लिख भी लिया तो आपकी लिखावट में वो बात नहीं होगी। क्योकि लिखना एक ऐसा काम है जो शांति से ही हो सकता है हड़बड़ी में नहीं। इसलिए आप अपने इस काम के लिए समय निकाले और मन को शांत करके लिखना शुरू करे। अगर लिखते लिखते बीच में आपका मन लिखने को करे तो उसी समय लिखना बंद कर दे। फिर जब आप अपना दिमाग तरो ताज़ा कर ले और आपको लिखने का मन करे तभी आप फिर से लिखना शुरू करे।

उम्मीद है आज के इस लेख को पढ़कर आप लोगो को फायदा हुआ है। लिखना ही जिन लोगो का सपना है उनके लिए इस लेख को पढ़ना बहुत ज़रूरी है क्योकि जरा सी गलती और लापरवाही हमारे सपने को तोड़ सकती है। इसलिए जब हम कोई सपना देखते है तो हमें उस सपने को लेकर काफी जिम्मेदार होना चाहिए और हमें हर बार ये कोशिश करनी चाहिए की हमसे कोई भी गलती हो जिसके कारण हमें बाद में पछताना पड़े। इसलिए आप लोग आज के इस लेख को ध्यान से पढ़िए और इसका पालन करिये।



0 comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.