बाहरवीं पास होने के बाद कैसे चुने अपना करियर

बाहरवीं पास होने के बाद कैसे चुने अपना करियर

12th क्लास की परीक्षाओ  का परिणाम निकल जाने के बाद स्टूडेंट्स आगे की पढ़ाई के लिए कॉलेज में आते है और ये उनके करियर का एक बहुत बड़ा अवसर होता हैं। क्योंकि उनके आगे के करियर के डिसीजन पर ही उनका भविष्य तय होता है। इस मोड पर एक सही निर्णय लेने से किसी स्टूडेंट की ज़िन्दगी संवर जाती है। और वो एक अच्छी नौकरी पा जाते है।  तो आइये जाने की 12th कक्षा के बाद करियर डिसाइड करने के लिए आप कोन-कोन से कोर्स कर  सकते है। आज के इस लेख को जब आप लोग पूरी तरह से पढ़ लेंगे तब आप लोगो को ये अच्छी तरह से समँझ में जायेगा की हम लोग 12th के बाद करियर बनाने के लिए क्या क्या कर सकते है।

बाहरवीं पास होने के बाद कैसे चुने अपना करियर

अगर आप अपनी पूरी लाइफ को खुशी खुशी और हैप्पीनेस के साथ गुजारना चाहते है तो आपके लिए ये बहुत ज़रूरी है की आप उसी काम में अपने आप को शामिल करे या उसी काम में अपना करियर बनाये जिस काम को करने में आपको रूचि हो क्योकि अगर आपने कोई ऐसा काम चुन लिया जिस काम को करने में आपकी रूचि ही नहीं है तो आप उस काम को कभी भी सही ढंग से नहीं कर पाओगे। और कभी उस काम के जरिये अपनी जिंदगी और अपना करियर को विकसित नहीं कर पाओगे।  सिर्फ इतना ही नहीं साथ साथ उस काम को करके आप कभी भी अपनी जिंदगी में खुश नहीं रह पाएंगे। इसलिए आप सबसे पहले ये जान ले और समँझ ले की आपको अपनी लाइफ में वास्तव में करना क्या है फिर उसी हिसाब से आप अपनी लाइफ में कुछ पाने की कुछ हासिल करने की कोशिश जारी रखे।


अगर आप अपनी लाइफ में कुछ पाना चाहते है कुछ हासिल करना चाहते है तो आपको कभी भी धीरज का साथ नहीं छोड़ना है। हमारे कहने का मतलब है की आप अपने करियर को लेकर ज़रूर excited रहिये मगर अपनी excitement को इतना भी बढाईये की धीरज ही आपका साथ छोड़ दे। आप अगर धीरज नहीं रखेंगे तो आप किसी भी काम को गंभीरता के साथ नहीं कर पाएंगे तो उसमे सफल होने के मोके भी कम ही रहेंगे। इसलिए आप लोग अपने मन को शांत रखिये और अपने अंदर धीरज रखिये। धीरज के साथ धीरे धीरे करके अगर आप किसी काम को करेंगे तो आप उस काम में ज़रूर सफल हो जायेगे और एक अच्छा करियर बनाने में भी सफल हो जायेगे।


जीवन को गंभीरता से ले ->> अब ये बात तो स्वाभाविक है की हम जब तक 10th 12th कक्षा तक होते है तब तक हम अपनी जिंदगी के फ्यूचर को लेकर जरा भी सीरियस नहीं होते और इस टाइम पर हम बिना किसी टेंशन और फ़िक्र के दोस्तों के साथ मौज मस्ती करते हुए अपनी लाइफ में हर एक पल को जिते है। लेकिन जब 12th क्लास को पास करते है वैसे ही हमारे अंदर एक अजीब सी परिपक्वता जाती है इस उम्र में अपने फ्यूचर ओर करियर को लेकर ऑटोमेटिक हमारे मन में फ़िक्र आने लगती है। जो की हमारे फ्यूचर लाइफ को बेटर बनाने के लिए बहुत ज्यादा जरूरी है।


कुछ लोग ऐसे भी होते है जो 12 के बाद भी अपनी लाइफ और करियर को लेकर सीरियस नहीं होते है और अपनी लाइफ को एक खेल ही समझते है। जो लोग अपनी लाइफ को लेकर सीरियस नहीं होते वो लोग ऐसे ही बैठे रहते है और उन लोगो की उम्र कब निकल जाती है उन्हें पता ही नहीं चलता। आप लोग भी अगर नहीं चाहते है की आप लोगो की उम्र ऐसे ही निकल जाये ओर आप लोग कुछ भी नहीं कर पाए तो आप लोग 12 के बाद अपनी लाइफ को लेकर सीरियस हो जाये।


गणित समूह के लिए कोर्स >>
BE/B.tech ->> ये कोर्स अधिकांश गणित वाले स्टूडेंट्स करना चाहते है क्योंकि इसे करने के बाद आप इंजीनियर बन जाते है। इस कोर्स की अवधि 4 साल की होती है हुए इसकी प्रमुख ब्रांच मैकेनिकल, इलेक्टिकल, सिविल, कंप्यूटर, पेट्रोलियम, केमिकल, टेक्सटाइल, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, एयरोनॉटिकल, डेरी टेक्नोलॉजी और आर्किटेक्चर है।
B.Sc ->> वो स्टूडेंट जिनका इंजीनियरिंग में सिलेक्शन नहीं हुआ है जो math, Physics, और chemistry में B.Sc कर सकते है। इसके बाद आप M.Sc करके किसी कॉलेज में लेक्चरर की नौकरी पा सकते है।
B.C.A ->> यदि आपकी सॉफ्टवेयर और आईटी कंपनी में काम करने की रूचि है तो आप B.C.A. कीजिये। इसके बाद M.C.A करके आप को इन कंपनी में अच्छी नौकरी मिल सकती है।
बी.आर्क ->> इस कोर्स को करने से आपको बिल्डिंग और कंस्ट्रक्शन की नॉलेज प्राप्त होगी जिसमे आगे की पढाई कर आप प्राइवेट कंस्ट्रक्शन कंपनी में जॉब पा सकते है या सरकारी नौकरी पा सकते है।


बायोलॉजी समूह के लिए कोर्स ->>
MBBS ->> ये कोर्स डॉक्टर बनने के लिए किया जाता है। ये कोर्स 5 साल का होता है इसे करना सभी बायोलॉजी लेने वाले स्टूडेंट्स की इच्छा होती है पर डॉक्टर बनना इतना आसान नहीं है। कम सीट्स होने के कारण केवल वही स्टूडेंट्स चुने जाते है जो मेडिकल की प्रवेश परीक्षा में टॉप मेरिट में आते है। इसलिए अगर आप MBBS करना चाहते है तो आपको बहुत मेहनत करनी चाहिए।
BDS ->> BDS यानी बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी। दांतों का डॉक्टर इस कोर्स को करने से भी बना जाता है। अगर आपका MBBS में सिलेक्शन नहीं हो पाया पर आपके नम्बर अच्छे है और आपको BDS में प्रवेश मिल रहा है तो इसमें एडमिशन ले लीजिये। दातों के डॉक्टर का आज कल बहुत अच्छा भविष्य है।
B.A.M.S ->> B.A.M.S यानी  आयुर्वेद का डॉक्टर बनना यदि आपका M.B.B.S और BDS में चयन नहीं हुआ है तो आप B.A.M.S करके आयुर्वेद के डॉक्टर बन सकते है। आयुर्वेद में डॉक्टर बनकर आपको सरकारी और प्राइवेट संस्थाओ में नौकरी मिल सकती है।
फार्मेसी ->> इस कोर्स को करने के बाद आप दवाइयों की कंपनियों में नौकरी पा सकते है। इसके साथ ही इस कोर्स को करने के बाद आपको मेडिकल स्टोर खोलने का भी लाइसेंस मिल जाता है।
B.H.M.S ->> इस कोर्स को करके आप आयुर्वेद और होमियोपैथी दवा बनाने वाली कंपनी में नौकरी पा सकते है। इसके साथ ही आप इनका मेडिकल स्टोर भी खोल सकते है।
B.Sc ->> आप वनस्पति विज्ञान, जूलॉजी और रसायन विज्ञान से B.Sc कर सकते है तथा उसके बाद किसी एक विषय में M.SC. करके लेक्चरर बनकर किसी कॉलेज मर पढ़ने की नौकरी पा सकते है। रसायन विज्ञान की जगह एग्रीकल्चर लेकर आप उसमे भी B.Sc और M.Sc. कर सकते है।


आर्ट्स समूह के लिए कोर्स ->>
BBA ->> वो स्टूडेंट जिन्होंने आर्ट्स लिया है और जिनका गणित अच्छा वो BBA कर सकते है। BBA करने के बाद आप MBA कीजिये और अगर आपकी इंग्लिश अच्छी है तो आप अच्छी मल्टीनेशनल में नौकरी पा जायेगे।
BA ->> आर्ट्स के स्टूडेंट्स BA में एडमिशन लेकर MA करने के बाद किसी कॉलेज में लेक्चरर बन सकते हैं और विद्यार्थियों का पढ़ा सकते हो।
LLB ->> आर्ट्स समूह के स्टूडेंट्स LLB करके वकालत भी कर सकते है। इसके बाद आप प्रतियोगी परीक्षाएं देकर नागरिक न्यायाधीश तक बन सकते है।


कॉमर्स समूह के लिए कोर्स >>
CA ->> चार्टर्ड अकाउंट बैंकर हर कॉमर्स का स्टूडेंट्स अपना भविष्य उज्जवल कर सकता है। पर इसके प्रश्न पत्र क्लियर करना कठिन होता है। इसलिए इसे पास करने के लिए ज्यादा मेहनत और अभ्यास की ज़रुरत होती है।s
B.COM ->> B.Com कर उसके बाद M.Com कर तथा टैली और दूसरे सॉफ्टवेर सीखकर आप किसी भी जगह अकाउंटेंट की नौकरी आसानी से प्राप्त कर सकते है।

आप जब आप लोगो ने इस लेख को पूरी तरह से पढ़ लिया है तो आप लोगो से हमारी विनती है की आप लोग इन टिप्स का पालन करे और 12th के बाद एक अच्छा सा करियर बना लीजिये।



0 comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.